एक सबक:-- नियम कानून के पालन से अर्थ और ऊर्जा का लाभ होता है

अब भारतीय वंशियों को यह सबक ले लेना चाहिए की नियम कानून के पालन में ऊर्जा और धन का तमाम व्यय शायद कही कम पड़ता है बजाये किसी घटना या काण्ड के उपरान्त उसके बचाव में करी जाने वाली रिश्वतखोरी और मीडिया बदनामी से, जबकि तमाम बचाव के बाद भी नतीजे अभी भी वही मिलते हैं।

No comments:

Post a Comment

Featured Post

नौकरशाही की चारित्रिक पहचान क्या होती है?

भले ही आप उन्हें सूट ,टाई और चमकते बूटों  में देख कर चंकचौध हो जाते हो, और उनकी प्रवेश परीक्षा की कठिनता के चलते आप पहले से ही उनके प्रति नत...

Other posts